Breaking News

बेगूसराय : 40 वर्षीय व्यक्ति की गोली मारकर हत्या, शव के हाथ पैर बांधकर पुलिया में फेंका

नूर आलम

बेगूसराय के डंडारी थाना क्षेत्र के कटरमाला उत्तरी पंचायत के तुरकिया गांव के समीप बीती रात 8-10 की संख्या में आए हथियारबंद अपराधियों के द्वारा नावकोठी थाना क्षेत्र के समसा गांव निवासी 40 वर्षीय तुलसी महतो की गोली मारकर हत्या कर दी गई. अपराधियों के द्वारा हत्या के बाद मृतक का हाथ पैर बांधकर सड़क किनारे पुलिया के नीचे पानी से भरे गड्ढे में लाश को डाल दिया था. जो सुबह में स्थानीय लोगों ने लाश को तैरते हुए देखकर इसकी सूचना डंडारी थाना को दी.

वहीं घटनास्थल पर पहुंची डंडारी पुलिस ने लाश को पुलिया के गड्ढे से निकालकर पहचान कराए जाने के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल बेगूसराय भेज दिया.
मृतक की पत्नी क्रांति देवी के बयान पर डंडारी थाना में 8 से 10 नामजद अपराधियों के विरुद्ध हत्या का मामला दर्ज कराया गया है. मृतक को सीने में दो तथा सर में एक गोली लगी है.

मिली जानकारी के अनुसार मृतक शुक्रवार की रात्रि अपने घर में था. मृतक की पत्नी ने पुलिस को दिए गए अपने बयान में बताई है कि रात के लगभग 11 बजे उसी के मोहल्ले की एक महिला के द्वारा उसके पति के मोबाइल पर फोन आया था जिसमें वह जल्दी से मोबाइल पर बुला रही थी. मृतक तुलसी महतो पिता स्वर्गीय सहदेव महतो ग्राम समसा थाना नावकोठी ने उसी समय उक्त महिला के द्वारा मोबाइल फोन से बुलाए जाने पर घर से निकल कर बाहर मोहल्ले में गया. जिसका पीछा करते हुए उसकी पत्नी क्रांति देवी भी साथ में गई थी. परंतु पति के द्वारा डांट फटकार कर उसे घर वापस भेज दिया गया. जब उसकी पत्नी उसका पीछा करते हुए उसके साथ घर के बाहर तक गई थी. तब देखी की गांव के ही 8 से 10 की संख्या में हथियारबंद अपराधियों का एक समूह मोहल्ले में मौजूद था. उक्त महिला के द्वारा उसके पति को बहला-फुसलाकर अपराधियों के बीच ले गई. अपराधियों के द्वारा उसे पकड़कर अज्ञात स्थल की ओर चला गया.

मृतक की पत्नी के द्वारा मोहल्ले में आसपास के लोगों को इसकी जानकारी दी गई. परंतु देर रात तक कोई सुराग नहीं मिला. सुबह होते ही उस रास्ते से गुजर रहे लोगों ने पुलिया के नीचे गड्ढे में एक तैरती हुई लाश हाथ-पैर रस्सी से बंधी हुई पड़ी देखी. जिसे देखने वालों की भीड़ जमा हो गई. उसकी पहचान क्षेत्र का नामी-गिरामी अपराधी तुलसी महतो के रूप में हुआ. पुलिस को भी तुलसी महतो की तलाश कई मामलों में थी. मृतक की हत्या उसके घर से महज आधे किलोमीटर की दूरी पर की गई है. जबकि घटनास्थल से नावकोठी थाना वहां से 500 मीटर की दूरी पर है.

बता दें कि तुलसी महतो की हत्या से नावकोठी के समसा गांव में पूरी तरह से भयभीत एवं गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है. कोई भी कुछ पुलिसवालों को बताने से परहेज कर रहा हूं. पीड़ित परिवार का रो रो कर बुरा हाल है. मृतक अपराधी भी समाज में काफी बदनाम था. लगभग दो वर्ष पूर्व ही गांव में आया था. इससे पूर्व लगभग पांच वर्ष तक एक पड़ोस की महिला के साथ गांव से बाहर रहा करता था. मृतक को दो लड़का तथा एक लड़की है.

x

Check Also

मोतिहारी : बिहार नवयुवक सेना के जिलाध्यक्ष पर जानलेवा हमला

एम के सिंह मोतिहारी में बेखौफ अपराधियों ने पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी में बिहार नवयुवक सेना के जिलाध्यक्ष विशाल प्रताप सिंह पर जानलेवा ...