Breaking News

पाकुड़ : कांग्रेस नेता सह पत्थर व्यवसाई अली अकबर गिरफ्तार, भेजे गए जेल

मक़सूद आलम

पाकुड़ में अवैध विष्फोटक का इस्तेमाल करने के मामले में पाकुड़ पुलिस ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पत्थर व्यवसाई अली अकबर को गिरफ्तार किया है. पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन सिंह के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई है.

रविवार को नगर थाना परिसर में पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन सिंह ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 10 अक्टूबर 2017 को अली एंड ब्रोथर्स के क्रशर से भारी मात्रा में अवैध विष्फोटक बरामद की गई थी. पुलिस ने मालपहाड़ी ओपी कांड संख्या 144/17 भादवी की धारा 120बी एवं 4/5 विष्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत अली अकबर, अजहर इस्लाम, अजफारुल सेख, माइन्स मैनेजर बॉबी सेख उर्फ हबीबुल सेख एवं क्रशर मुंशी फारुख सेख पर प्राथमिकी दर्ज की गई थी. मुख्य अभियुक्त अली अकबर को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जानकीनगर गांव से गिरफ्तार किया गया.

एसपी ने बताया गिरफ्तार अभियुक्त अली अकबर का आपराधिक इतिहास रहा है. कई मामले में जेल जा चुके हैं. पुलिस को अली अकबर की तलाश थी. गुप्त सूचना मिली थी के अली अकबर अपने घर पर है. इसके बाद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशोक कुमार के नेतृत्व में टीम गठन किया गया. टीम में नगर थाना प्रभारी रामचंद्र सिंह,अपराध अनुसंधान विभाग रांची से पुलिस निरीक्षक बन्दीराम टोप्पो, मुफ्फसिल थाना प्रभारी बाबू बंशी साव एवं मालपहाड़ी ओपी प्रभारी राजकुमार सिंह सहित पुलिस जवान को तैनात किया गया था. इसके बाद अली अकबर की गिरफ्तारी की गई.

अली अकबर का ये है आपराधिक इतिहास–

मुफ्फसिल थाना कांड संख्या 134/06,126/10,127/10 के अलावे मुफस्सिल थाना कांड संख्या 132/12 जिसमें जेल जा चुके हैं. वहीं मालपहाड़ी ओपी कांड संख्या 147/17 है. एसपी ने बताया कि अवैध ढंग से खदान में विष्फोटक का इस्तेमाल करना संगीन अपराध है. अगर कोई भी व्यक्ति द्वारा अवैध विष्फोटक करते पाए जाते हैं तो उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

कांग्रेस के कद्दावर नेता हैं अली अकबर—

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सह पत्थर व्यवसाई अली अकबर का अचानक गिरफ्तार किये जाने से बाजार में चर्चा का माहौल गर्म है. सूत्रों की माने तो लोग आने वाले विधानसभा चुनाव से जोड़कर देख रहे हैं. कांग्रेस पार्टी में चर्चा है कि विष्फोटक मामले में एफआईआर 2017 में दर्ज की गई थी और गिरफ्तारी इतना विलम्ब से आखिर क्यों क्या गया ? अगर पुलिस को गिरफ्तारी करना ही था तो तुरंत करती. चर्चा यह भी की जब अली अकबर के नाम से पत्थर खदान नही है और न ही क्रशर ऐसे में पुलिस अली अकबर को नामजद अभियुक्त बनाना सवालिया निशान खड़ा करता है.

पुलिस भाजपा के इशारे पर कर रही काम-निरंजन मिश्रा

अली अकबर की गिरफ्तारी पर कांग्रेस पार्टी के संताल परगना प्रवक्ता निरंजन मिश्रा ने सवाल खड़ा कर दिया है. मिश्र का कहना है केंद्र की सरकार जिस तरह पी चिदंबरम की गिरफ्तारी बदले की भावना से की है, वैसे ही पाकुड़ में अली अकबर की गिरफ्तारी बदले की भावना से की है. पुलिस भाजपा के इशारे पर कांग्रेस नेता की गिरफ्तारी कर रही है. बयूरोक्रेट्स पूरी तरह हावी है. अली अकबर के नाम से न खदान है और न ही क्रशर ऐसे में गिरफ्तारी किया जाना निश्चित रूप से पुलिस संदेह के घेरे में है.

पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल, आखिर जल्दबाजी में क्यों है पुलिस-आलमगीर

पाकुड़ के कांग्रेस नेता सह पत्थर व्यवसाई अली अकबर की गिरफ्तारी पर घमासान शुरू हो गया है. स्थानीय विधायक आलमगीर आलम ने पाकुड़ पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि पाकुड़ पुलिस भाजपा के इशारे पर कार्रवाई कर रही है. अली अकबर के साथ अपराधी की तरह बर्ताव किया जा रहा है. वे कई प्रकार के बीमारी से ग्रसित हैं. मामला सीआईडी विभाग में है. अली अकबर के नाम से न तो पत्थर खदान है और न ही क्रशर, ऐसे में पाकुड़ पुलिस ने अली अकबर के नाम पर एफआईआर कर दिया जाना राजनीतिक से प्रेरित है. पुलिस को निष्पक्ष होकर काम करना चाहिए. पाकुड़ की जनता सब जानती है.

x

Check Also

बेगूसराय : अपराधियों के तांडव से दहल उठा खांजहांपुर, इलाके में फैली सनसनी

नूर आलम बेगूसराय के चेरियाबरियारपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत खांजहांपुर पंचायत के वार्ड नंबर-03 स्थित बभनटोली में नृशंस हत्याकांड के से पुरा इलाका दहल उठा. जैसे ...