Breaking News

मुंगेर : भाजपा नेता की गला काटकर हत्या, शव के पास से मिला नक्सली पर्चा

अमृतेश सिन्हा

मुंगेर में शुक्रवार को भाजपा नेता व पूर्व हार्डकोर नक्सली की गला काट बेहरहमी से हत्या कर शव को जंगलो में फेंका हुआ पाया गया. जिसके बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. शव के पास से नक्सली पर्चा, बाइक और मोबाइल बरामद किया गया. वहीं पर्चा देख नक्सलियों द्वारा हत्या किये जाने की आंशका जताई जा रही है. वहीं घटना की जानकरी मिलते ही एसपी सहित कई पुलिस कर्मी घटना स्थल पहुंचे. हालांकि डीआईजी मनु महाराज ने नक्सली घटना से इनकार करते हुए मामले की जाँच किये जाने की बात कही है.

दरअसल मामला है कि जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र लड़ैयाटांड़ थाना के सतघरवा जलाशय के पास घनी झाड़ियों में अनुसूचित जन जाती मोर्चा के जिलाध्यक्ष (भाजपा) दिनेश कोड़ा सर कटी लाश मिलने से इलाके में सनसनी फ़ैल गयी. घटना की जानकरी मिलते ही परिजन मोके पे पहुंचे और शव को देख कर रो रो के बुरा हाल था. नक्ससल प्रभावित क्षेत्र होने के कारण पुलिस घटना की सुचना मिलने के बाद आधे घंटे लेट पहुंची. घटना की जानकारी मिलते ही एसपी गौरव मंगला सदर एएसपी हरि शंकर कुमार एएसपी अभियान राणा नवीन मोके पर पहुंचे.

जानकरी के अनुसार भाजपा नेता दिनेश कोड़ा गरुवार को दोपहर तीन बजे घर से ये कहकर निकले थे कि वो बंगलवा गांव जा रहे हैं, लेकिन वो रात में घर नहीं लौटे. वहीं आज शव सतघरवा जंगल में मिली जहां उनकी बाइक और मोबाइल घटना स्थल पर मिली. भाजपा नेता के शरीर पर कई दाग हैं. इससे ऐसा प्रतीत होता है कि भाजपा नेता को बेहरमी से मारपीट की गयी जिसके बाद गला काटकर हत्या कर दी गयी. वहीं घटना स्थल पे एक नक्सली पर्चा बरामद की गयी. जिसमे पार्टी के नाम पर पैसा वसूलना, पुलिस की मुखबरी, पार्टी के नाम पर जनता को धोखा देना और दबदबा कायम करना का आरोप नक्ससलियो ने नेता पे लगया है और इन कारणों के कारण भाकपा माओबादी दिनेश कोड़ा को सजाये मौत का फरमान जारी किया गया.

परिजनों ने बताया की जमीनी विवाद को लेकर टिल्ला गांव के ग्रामीणों ने हत्या की घटना को अंजाम दिया गया और बेहरमी से उसकी हत्या की गयी. उन्होंने कहा नक्ससलियो द्वारा कोई फरमान जारी नहीं किया गया है ना ही नक्ससलियो ने घटना का अंजाम दिया है. वहीं घटना के बाद पहुंची पुलिस ने जाँच के डॉग स्क्वाइड की टीम को बुलाया गया है जिससे इस हत्या कांड में शामिल लोगो तक पहुंचा जा सके.

वहीं इस मामले में डीआईजी मनु महराज ने कहा की दिनेश कोड़ा पूर्ब में नक्ससल संगठन में रहा है उसपर आपराधिक मामले दर्ज है. उन्होंने कहा प्रथम जाँच के अनुसार हत्या का मामला लगता है और घटना स्थल पर दिनेश कोड़ा की बाइक मोबाईल और एक नक्ससली पर्चा की बरामदगी हुई है. डीआईजी ने कहा कि घटना स्थल पर बरामद नक्ससली पर्चा के अनुसार व मृतक का पुलिस से कोई संबध नहीं है ना ही वो नक्ससल गतिविधियो की जानकरी पुलिस को देता था. उन्होंने कहा कि परिजनों के अनुसार जमीनी विवाद में दिनेश कोड़ा की हत्या की गयी. उन्होंने कहा पुलिस मामले की जाँच कर जल्द ही इस मामले का उजागर किया जायेगा.

गौरतलब है कि मृतक की पत्नी किरण देवी शेखपुरा सरकारी विद्यालय में शिक्षिका है. दिनेश कोड़ा पूर्व में नक्सली संगठन में शामिल था. बाद में वह समाज की मुख्यधारा में जुड़कर सामाजिक जीवन का निर्वाह कर रहा था.

x

Check Also

कैमूर : जिउतिया का स्नान करने गए तीन बच्चों व एक युवक की डूबने से मौत

विशाल कुमार कैमूर में रविवार को जिउतिया पर्व में स्नान करने के दौरान तीन बच्चों की और एक युवक की डूबकर मौत हो गयी. मृतकों ...