Breaking News

मुंगेर : पुलिस मुखबिरी के शक में दोस्तों ने युवक को अगवा कर की हत्या, पुलिस नहीं मान रही हत्या की बात, तलाश जारी

अमृतेश सिन्हा

मुंगेर में गत छः सितंबर को एक युवक के अगवा होने के मामले में गिरफ्तार युवक बीरवल ने पुलिस के समक्ष बड़ा खुलासा किया है. उसने बताया है कि उसने और दोस्तों ने ही युवक की हत्या को अंजाम दिया और हत्या कर युवक के शव को गंगा नदी फेंक दिया. हालांकि पुलिस अभी हत्या की बात नहीं मान रही है. मुंगेर एसपी के मुताबिक हत्या की अभी पुष्टि नहीं हुई है, लिहाज उसकी तलाश जारी है. वहीं हत्या की बात सुन परिजन दहशत में हैं.

जब दोस्त ही दुश्मन बन जाए तो दोस्तों को अपनी जान देकर दुश्मनी की कीमत चुकानी पड़ती है. कुछ ऐसा ही मामला विजयनगर बरियारपुर में हुआ. बीते छःसितंबर से लापता बताए जा रहे रवि कुमार के अपहरण की गुत्थी लगभग खुल गई. पुलिस ने अपहरण के आरोपी बीरबल को गिरफ्तार कर लिया, जिसने रवि की हत्या किए जाने के बाद शव को गंगा में फेंकने की बात स्वीकारी है.

मिली जानकारी के अनुसार पुलिस मुखबिरी के संदेह में रवि की हत्या की गई. हत्यारों को संदेह था कि पुलिस द्वारा शराब की जो खेप पकड़ी जा रही है, उसमें रवि ही मुखबिर का काम करता है पर मुंगेर एसपी गौरव मंगला ने रवि की हत्या की बात से साफ इंकार किया और कहा कि गिरफ्तार युवक ने कुछ तथ्य बताये हैं, जिसके आधार पर कुछ भी कहना संभव नहीं है.

बता दें कि पहले इस मामले में 2200 रुपए के लिए अपहरण की चर्चा थी. रवि की मां सुनीता ने पुलिस को दिए आ‌वेदन में बताया था कि बीरबल का रवि पर 2200 रुपया बाकी था, बीरबल ही अपने दो और साथियों के साथ रवि को बाइक पर बिठा ले गए थे. जिसके बाद से वह लापता था. सुनीता देवी बताती है कि पुलिस ने जिस आरोपी को पकड़ा वह हत्या की बात कर रहा है पर वह अभी कोई भी जानकारी सही नहीं दे पा रहा है कि उसका बेटा जीवित है या मृत.

वहीं आरोपी बीरवल की गिरफ़्तारी के बाद कई राज खुल सामने आये. रवि की हत्या की बात स्वीकारने के बाद थाना और रवि के भाई ने गंगा में काफी खोजबीन की, पर उसका कही कुछ पता नहीं चला. जिससे पूरा परिवार काफी भयभीत है. स्थानीय थाना ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी बीरबल ने पुलिस को बताया कि रवि को शराब पीने के नाम पर घर से बुलाकर शकहरा टोला मैदान ले गए, जहां सभी ने पहले जमकर शराब पी. शराब के नशे में रवि को दियारा की ओर ले जाकर हत्या की गई और शव को गंगा में फेंक दिया गया पर अभी तक उसके शव का कहीं नामो निशान नहीं मिल रहा है.

x

Check Also

कैमूर : जिउतिया का स्नान करने गए तीन बच्चों व एक युवक की डूबने से मौत

विशाल कुमार कैमूर में रविवार को जिउतिया पर्व में स्नान करने के दौरान तीन बच्चों की और एक युवक की डूबकर मौत हो गयी. मृतकों ...