Breaking News

सीवान : उत्तर बिहार का सुप्रसिद्ध मौनिया बाबा मेला हर्षोल्लास के साथ संपन्न

शाहिल कुमार

सीवान के महाराजगंज में उत्तर बिहार का सुप्रसिद्ध ऐतिहासिक मौनिया बाबा का मेला शुक्रवार की संध्या आपसी एकता व सद्भावना के साथ शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न होगा गया.

बता दें कि गुरुवार की देर शाम राष्ट्रीय एकता व सद्भावना के प्रतीक उत्तर बिहार का सबसे बड़ा मौनिया बाबा महावीरी झंडा मेला की विधिवत शुरुआत हुई. मेला का उदघाटन विधायक हेमनारायण साह, एसडीओ मंजीत कुमार, एसडीपीओ हरीश शर्मा, नगर पंचायत अध्यक्ष मंजू देवी, उपाध्यक्ष उमाशंकर सिंह व ईओ अरबिंद कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया. शुरुआत मौनिया बाबा समाधि स्थल से हुई. जहां पुजारी दिलदिल उपाध्याय के वैदिक मंत्रोचार के बीच विधिवत पूजा अर्चना के बाद अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर विधिवत रूप से मेला की शुरूआत की गई. उसके बाद मुख्य मेला नियंत्रण कक्ष राजेन्द्र चौक, शहीद स्मारक चौक व दुर्गा चौक नखास पर बने मेला नियंत्रण कक्ष का उद्घाटन हुआ.

इस मौके पर विधायक हेमनारायण साह ने कहा कि मौनिया बाबा मेला आपसी सद्भावना व भाईचारे का प्रतीक है. इसलिए हम सबका फर्ज है कि मेले में शांति बनाएं रखने में सहयोग करें. वहीं एसडीओ मंजीत कुमार ने कहा कि ऐतिहासिक मौनिया बाबा महावीरी झंडा मेला के शांतिपूर्ण सफल संचालन को ले अनुमंण्डल प्रशासन तत्पर है. शहर के चप्पे चप्पे में पुलिस बलो कि तैनाती की गई है. शहर से लेकर मेला स्थल तक सीसीटीवी कैमरा लगाये गये हैं. कंट्रोल रूम से 24 घंटे इस पर नजर रखी जा रही है. सादे लिबास में भी पुलिस बल को तैनात किया गया है. एसडीपीओ हरीश शर्मा ने कहा कि मेले में सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद है. पर्याप्त बल तैनात किया गया है.

वहीं शुक्रवार के दिन में लगने वाला मेला दोपहर 2 बजे से पारंपरिक हथियार लाठी डंडा फेरसा तलवार के साथ ग्रामीण क्षेत्रों के लोग अपने अपने शौर्य-प्रदर्शन को प्रदर्शित करते हुए विभिन्न आखड़ो के साथ अपने अपने निर्धारित समय के साथ मौनिया बाबा समाधि स्थल तक पहुँच पुजा पाठ कर पुनः अगले साल आने के वादा साथ अपने अपने घर लौट पड़े.

इस मौके पर राजेन्द्र चौक स्थित मुख्य नियंत्रण कक्ष पर सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल, विधायक हेमनारायण साह, एसडीओ मंजीत कुमार व एसडीपीओ हरीश शर्मा के साथ जिला से आए पदाधिकारीगण उपस्थित थे. मंच पर उपस्थित सांसद, विधायक, एसडीओ व एसडीपीओ सहित सभी ने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों से आए विभिन्न अखाड़ो के द्वारा उनके शौर्य-प्रदर्शन के लिए हौसला अफजाई कर रहें थे.

बताते चलें कि शुक्रवार के दिन दोपहर में लगने वाला मेला में सुबह से ही अनुमंडल प्रशासन के अगुवाई में प्रशासन ने शहर के हर चौक चौराहों पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस बल को अलर्ट रूप से मुस्तैदी के साथ खड़े किए गए थे. जैसेे जैसे ग्रामीण इलाके से आने वाले विभिन्न आखड़ा एक एक कर शहर में प्रवेश करने लगा और पुरा शहर श्रद्धालु भक्तों के भीड़ से पट गया. शहर में लाखों की संख्या में लोगों का जनसैलाब मेला देखने के लिए उमड़ पड़ा. इस दौरान शहर के चारों दिशा में मौनिया बाबा मेला में श्रद्धालु भक्तों की भीड़ देखी गई और अंततःशुक्रवार को धीरे-धीरे समय के साथ मेला समापन की और अग्रसर होता चला गया. वहीं प्रतिबन्ध के बावजूद मेले ऑर्केस्ट्रा और डीजे की धुन पर बार-बालाओं ने जमकर ठुमके भी लगाए.

अनुमंडल प्रशासन ने संध्या 8 बजे महाराजगंज की जनता आखड़ा धारियो, मेला प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ मेला को शांति माहौल में संपन्न कराने के लिए सभी का धन्यवाद दिया. प्रशासनिक समापन के बाद मौनिया बाबा स्थल पर लगा मेला पुरे एक माह तक चलेगा. जहाँ सर्कस झुला, ब्रेक डांस, मौत का कुआ, चिड़िया घर व मिना बाजार इत्यादि जैसे मेला में मनोरंजन का केन्द्र बना है. वहीं मेले में लकड़ी के बने फर्निचर के समान, पलंग, कुर्सी, टेबल जैसे अन्य समान मेला में लोगों का आकर्षक का केंद्र बने हैं.

x

Check Also

बेगूसराय : डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने की क्राइम की समीक्षा बैठक

पिंकल कुमार बेगुसराय में अनकंट्रोल अपराधियो पर नकेल कसने के लिए बिहार के डीजीपी ने कई आवश्यक दिशा निर्देश जारी किया है. इस संबंध में ...