Breaking News

चाईबासा : संत मोनिका के जन्मदिन पर कैथोलिक ईसाईयों द्वारा रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन

संतोष वर्मा

चाईबासा में रविवार को कैथोलिक ईसाईयों ने जेवियर स्कूल प्रांगण में संत मोनिका के जन्म दिन पर रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया. इसे माता दिवस के रूप में मनाया गया.

इस अवसर पर माताओं के सम्मान में संत जेवियर्स बालिका उच्च विद्यालय की बच्चियों ने आकर्षक नृत्य प्रस्तुत कर कार्यक्रम में समा बांधा. वहीं संत जेवियर्स इंगलिश के बच्चे बच्चे-बच्चियाें ने रोबिन बालमुचु की अगुवाई में “मम्मा हो मां, मम्मी हो मां, अम्मा हो मां, प्यारी हो मां, मुझे नींद नहीं आती तो सुनाती हैं लोरियां, मेरे नाश्ते मेेें रोज सुबह बनाती हैं पूरियां” जैसी भावानात्मक गीत प्रस्तुत किया. मौके पर माताओं को बुके देकर बधाई दी गई एवं उनके स्वास्थ्य की कामना किया गया.

इससे पूर्व चर्च में पल्ली पुरोहित फादर हालेन एवं फादर जुनास ने संत मोनिका की जीवनी पर प्रकाश डाला और विशेष मिस्सा पूजा किया. वहीं फादर जुनास ने कहा कि संत मोनिका माताओं के प्रेरणा व मार्गदर्शिका थीं. उन्होंने कहा कि संत मोनिका की शुरआती जीवन बड़ी कठिनाईयों में बीता. क्योंकि उनके पति और बेटे नास्तिक थे. वे दोनों ईश्वर और प्रार्थना में विश्वास नहीं करते थे और बहुत ही क्रूर स्वभाव के थे. संत मोनिका ने अपने पति व बेटे के भटके हुए स्वभाव के लिए खूब प्रार्थना करती थी और अंत में उन दोनों का स्वभाव में आश्चर्यजनक रूप से परिवर्तन आया और अच्छे इंसान के रूप में जीवन बिताया. संत मोनिका द्वारा प्रार्थना में पूर्ण विश्वास करने की प्रवृति माताओं के लिए प्रेरणादायी है. फादर हालेन ने कहा कि हम सभी इंसान माता की वजह से ही वजूद पाये हैं. उन्होंने कहा कि माता हमें जन्म देती है और पालती है एवं ममता के साये में सुंदर संस्कार से सुशोभित करती है. इसलिए हमारा परम कर्तव्य है कि माता का सम्मान करें.

इस मौके पर पुलिस इंस्पेक्टर अनिल तिग्गा और किशोर तामसोय ने बुजुर्ग माताओं को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया इस मौके पर आशीष बिरूवा, फिलिप तोपनो,भगवान तोपनो, सुनीता हेम्ब्रम, लुसी हेम्ब्रम बिरूवा, जुलियाना पुरती देवगम,गंगामोती दोंगो तामसोय,मालती सिंकु,संजीव बालमुचु,रंजीत मुंडु, जेम्स सोय,धीरसेन धान,जेम्स गागराई, प्रफुल्लित होरो गागराई, पुष्पा डाहंगा, विल्सन नागुडियार, विक्टर सुरीन, रोयलेन तोपनो, प्रहलाद बालमुचु,अमातुस तोपनो, शांतिप्रिय बालमुचु, पीयूष दोंगो, जॉन देवगम समेत काफी संख्या में कैथोलिक परिवार के महिला-पुरूष व बच्चे-बच्चियां उपस्थित थे.

x

Check Also

कैमूर : जिउतिया का स्नान करने गए तीन बच्चों व एक युवक की डूबने से मौत

विशाल कुमार कैमूर में रविवार को जिउतिया पर्व में स्नान करने के दौरान तीन बच्चों की और एक युवक की डूबकर मौत हो गयी. मृतकों ...