Breaking News

चाईबासा : आरबीसी की बच्चियों व शिक्षिकाओं ने पुलिसकर्मियों को राखी बांध मनाया रक्षाबंधन

संतोष वर्मा

चाईबासा में राखी पूर्णिमा तथा स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर बालिका आवासीय सेतू पाठ्यक्रम जगन्नाथपुर (मौलानगर) में उर्म सापेक्ष दक्षता प्राप्त करने वाली बच्चियों व शिक्षिकाओं ने जगन्नाथपुर थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक सहित अन्य पदाधिकारियों व कर्मचारियों की कलाई में राखी बांधकर राखी पूर्णिया के पवित्र त्योहार को हर्षोउल्लास के साथ मनाया.

इससे पहले आरबीसी की बच्चियों के साथ जगन्नाथपुर थाना के थाना प्रभारी सहित अन्य एएसआई, हवदार, सिपाही व कर्मी ने बच्चियों और शिक्षिकाओं के साथ बैठक की. जिसमें बच्चियों व शिक्षिकाओं से उनके व्यक्तिगत परिचय व एस्पायर में उनकी जिम्मेदारी तथा बच्चियों के उनके एस्पायर के आरबीसी जीवन से पहले की परिस्थितियों की जानकारी ली. साथ ही पुलिस कौन है? पुलिस का कार्य एवमं जिम्मेदारियां क्या है? पुलिस क्यों है? पुलिस स्टेशन क्या है? इस पर बच्चियो तथा शिक्षिकाओं की नॉलेज की परख लिया गया. जिस पर सभी बच्चियों तथा शिक्षिकाओं ने थाना प्रभारी मधूसुदन मोदक के सवालों का एक-एक कर अपनी समझ व विवेक के अनुसार जबाब दिया. जबाब सुन कर सभी पदाधिकारी काफी उत्साहित हुए और एस्पायर के बच्चियों को शिक्षा से जोङने के लिए किये जा रहे कार्यो व बच्चियों के गतिविधियों की काफी सराहना की.

इस दौरान थाना प्रभारी मधुसूदन मोदक ने भी पुलिस कौन, क्या और क्यों पर सटीक जानकारी बच्चियों को दी तथा कहा कि पुलिस ही इस समाज का सच्चा भाई, सच्चा साथी और सच्चा हमदर्द है, किसी भी प्रकार की समस्या हो तो निःसंकोच थाना में आये और पुलिस पर विश्वास कर अपनी समस्याओं को रखे, आपकी समस्या को यथासंभव तुरंत सामाधान किया जाएगा.

इस मौके पर आरबीसी की बच्ची अश्रिता सिंकु द्वारा स्वंतत्रता दिवस के अवसर पर दिये गये अभिभाषण को सुनकर भी सभी अवर निरीक्षक व सहायक अवर निरीक्षक गदगद हो गये और सुमित्रा के इस गतिविधि को जमकर सहारा और सभी बच्चियों, शिक्षिकों के उज्जवल भविष्य की सराहना की गई. साथ ही एस्पायर को हर सम्भव सहयोग का आश्वासन भी दिया। इस दौरान बच्चियों ने जगन्नाथपुर थाना प्रभारी सहित अन्य को आरबीसी विजिट करने हेतू आमंत्रित भी किया जिसे स्वीकारते हुए थाना प्रभारी ने कहा जल्द ही आरबीसी का विजिट किया जायेगा.

वहीं इस पावन अवर पर बीसी व एलईपी बीसी के द्वारा आरबीसी क्या है? किसके लिए हे? क्यों है? पर पुलिस पदाधिकारियों के बीच समझ बनाया. साथ ही एस्पायर द्वारा दिल्ली, उङिसा व झारखण्ड में चल रहे प्रोजेक्ट की जानकारी दी. साथ ही एस्पायर के आरबीसी व फिल्ड वर्क के विभिन्न क्रियाकलापों की जानकारी भी दी गई. शिक्षिकाओं के द्वारा यह भी बताया गया कि जो बच्चियां आरबीसी में शिक्षा ले रही है वे सभी अलग अलग रुप में बालश्रम से जुङी हुई थी. इन बच्चियों में कई सिंगल पैरेंट, कोई डबल पैरेंट तो कईयों के माता-पिता भी नही है कि जानकारी दी गई. इस अवसर पर थाना प्रभारी मधूसुदन मोदक, सहायक अवर निरीक्षक तारकनाथ सिंह, उमेश प्रसाद यादव, नन्दकिशोर सिंह, हवलदार जगेश्वर मेहता, बिल्लु महतो, पत्रकार चंदन कुमार, बीसी एस रमेश, एलईपी बीसी सुरेश बाग, सीएफ बिशाल गोप, विनीता बोबोंगा, शिक्षिका रैना कुमारी, ओनामी कुमारी अन्य पुलिसकर्मी मौजूद थे.

x

Check Also

सीवान : प्रसिद्ध चित्रकार रजनीश कुमार मौर्य के घर चोरी, सीसीटीवी में कैद हुई चोरों की तस्वीर

मोनू गुप्ता सीवान में चोरों का आतंक बढ़ता ही जा रहा है. शातिर चोरों ने बुधवार की रात शहर के प्रसिद्ध चित्रकार रजनीश कुमार मौर्य ...