Breaking News

छपरा : डाटा विलिडेशन कमिटी की प्रमंडल स्तरीय समीक्षा बैठक, क्षेत्रिय अपर स्वास्थ्य निदेशक ने दिया आवश्यक दिशा-निर्देश

राहुल कुमार

छपरा सदर अस्पताल के डिविजनल ट्रेनिंग केंद्र के सभागार में बुधवार को प्रमंडल स्तरीय डाटा वैलिडेशन कमिटी की बैठक क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ अरविन्द कुमार गुप्ता के अध्यक्षता में की गयी. बैठक में एमएमआईएस जीओआई पोर्टल पर मासिक प्रतिवेदन एवं एनुअल इंफ्रास्ट्रक्चर से संबंधित प्रतिवेदन में प्रतिवेदित आंकाड़ों की समीक्षा की गयी.

क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ अरविन्द कुमार गुप्ता ने कहा कि इस पोर्टल पर प्रतिवेदित सभी प्रकार के आंकड़ों को ससमय एवं सही तरीके से प्रतिवेदित करना आवश्यक है. उन्होने कहा कि प्रतिवेदित आंकाड़ों के आधार पर जिला अस्पतालों की रैंकिंग कर देखा जाता है कि कौन अस्पताल अच्छी सेवाएं आमजनों तक पहुंचा रहा है.

यहां बता दें कि कुछ पहले हीं नीति आयोग की टीम तीनों जिला छपरा, सीवान और गोपालगंज द्वारा प्रतिवेदित आंकड़ों की जांच कर के गयी है. प्रमंडल स्तर पर डाटा वैलिडेशन कमिटी की पूर्व की बैठक में दिए गये निर्देशों का अनुपालन सदर अस्पताल छपरा के द्वारा नहीं किया गया है. जिसपर क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक ने नाराजगी जताते हुए निर्देश दिया कि सभी आंकड़ों को शीघ्र सुधार करना सुनिश्चित करें.

किसी अस्पताल द्वारा मातृ मृत्यु की समीक्षा नहीं की गयी

समीक्षा बैठक में पाया गया कि प्रमंडल के तीनों जिले के अस्पतालों द्वारा मातृ मृत्यु की की समीक्षा अभी तक नहीं की गयी है. जिसपर क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक ने सभी सिविल सर्जन निर्देश दिया कि मातृ मृत्यु की समीक्षा करना सुनिश्चित करेंगे.

सीवान में एक्स-रे व अल्ट्रासाउंड की सुविधा का प्रतिवेदन पोर्टल पर अपलोड नहीं

क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक ने समीक्षा के दौरान पाया कि सिवान सदर अस्पताल के द्वारा एमएमआईएस जीओआई पोर्टल पर एक्स-रे एवं अल्ट्रासाउंड की सुविधा का प्रतिवेदन अपलोड नहीं किया गया है. उन्होने निर्देश दिया कि अगर सदर अस्पताल पर एक्स-रे एवं अल्ट्रासांउड की सुविधा उपलब्ध है तो इसका प्रतिवेदन शीध्र पोर्टल पर अपलोड करें. समीक्षा के दौरान पाया गया कि सारण में पोस्टमार्टम स्ट्रेलाइजेशन की उपलब्धि बहुत कम है. जिसमें क्षेत्रिय अपर स्वास्थ्य निदेशक ने अपेक्षित सुधार करने का निर्देश दिया है.

नवजात शिशुओं को नहीं दी जा रही है विटामिन-के

समीक्षा के दौरान पाया गया कि सारण प्रमंडल के तीनों जिला सारण, सीवान और गोपालगंज के कई अस्पतालों में नवजात शिशुओ को लाईफ सेविंग विटामिन-के नहीं दिया जा रहा है. जिसे शत-प्रतिशत सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है.

बैठक में ये थे शामिल

प्रमंडल स्तरीय समीक्षा बैठक में क्षेत्रीय अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ अरविंद कुमार गुप्ता, सिविल सर्जन सारण डॉ माधवेश्वर झा, मेडिकल ऑफिसर डॉ रतना शरण, क्षेत्रीय अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी शादान रहमान, प्रमंडलीय आशा समन्वयक मनोज कुमार, डब्ल्यूएचओ के समन्वयक डॉ रंजितेष कुमार, यूनिसेफ समन्वयक आरती त्रिपाठी, डीपीएम सीवान विश्वमोहन ठाकुर, डीपीएम छपरा धीरज कुमार, डीपीएम गोपालगंज, डीएमएंडई छपरा भानू शर्मा, डीएमएंडई सीवान तरबेज समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

x

Check Also

सीवान : अब परिवार नियोजन पखवाड़ा 31 जुलाई तक, दिए गए निर्देश

राहुल कुमार सिंह परिवार नियोजन के साधनों के इस्तेमाल में गति लाने के लिए 11 जुलाई से 24 जुलाई तक राज्य के सभी जिलों में ...